आयकर रिटर्न दाखिल करने की तिथि पांच दिन बढ़ाकर 5 अगस्‍त, 2017 कर दी गई है

आयकर रिटर्न दाखिल करने की तिथि पांच दिन बढ़ाकर 5 अगस्‍त, 2017 कर दी गई है

आयकर रिटर्न दाखिल करने की तिथि पांच दिन बढ़ाकर

5 अगस्‍त, 2017 कर दी गई है 

extension-of-date-of-filling-of-income-tax-return

रिटर्न की ई-फाइलिंग में
सहूलियत के लिए आयकर रिटर्न की ई-फाइलिंग की तिथि 5 दिन आगे बढ़ाने का भी
निर्णय लिया गया है। अब आयकर रिटर्न 5 अगस्‍त, 2017 तक दाखिल किया जा सकता है। 


इस आशय की कुछ शिकायतें मिली हैं कि करदाताओं को आयकर विभाग की ई-फाइलिंग
वेबसाइट पर लॉग-इन करने अथवा पैन (स्‍थायी खाता संख्‍या) और आधार डेटाबेस में
नाम एकसमान न होने के कारण पैन से ‘आधार’ को जोड़ने में मुश्‍किलें पेश आ रही
हैं। वैसे तो तकनीकी समस्‍याओं को पहले ही बाकायदा दूर कर दिया गया है, लेकिन
लॉग-इन करने में असमर्थ होने का मुख्‍य कारण यह था कि अंतिम तारीख होने के
कारण एकदम से करदाताओं की भीड़ बढ़ गई और इसके साथ ही ऐसे लोग जो पहले ही
लॉग-इन कर चुके थे वे इसमें मुश्‍किलें पेश आने के अंदेशे को ध्‍यान में रखते
हुए घबराहट में आकर पूरी अवधि तक लॉग-इन का फायदा उठाना चाहते थे।
Read also :  GPF Rules - Government simplified the conditions for advance/withdrawal from fund

घबराहटपूर्ण माहौल को देखते हुए करदाताओं को सहूलियत देने के लिए सरकार ने
निम्‍नलिखित कदम उठाए हैं:

रिटर्न की ई-फाइलिंग के लिए फिलहाल ई-फाइलिंग वेबसाइट पर ‘आधार’ अथवा आधार के
लिए आवेदन करने पर मिली पावती संख्‍या को दर्ज कर देना ही पर्याप्‍त होगा।
इसके बाद आधार से पैन को वास्‍तव में 31 अगस्‍त, 2017 से पहले कभी भी जोड़ा जा
सकता है। हालांकि, जब तक ‘पैन’ से ‘आधार’ को नहीं जोड़ा जाएगा या लिंक किया
जाएगा, तब तक आयकर रिटर्न की प्रोसेसिंग नहीं होगी। रिटर्न की ई-फाइलिंग में
सहूलियत के लिए आयकर रिटर्न की ई-फाइलिंग की तिथि 5 दिन आगे बढ़ाने का भी
निर्णय लिया गया है। अब आयकर रिटर्न 5 अगस्‍त, 2017 तक दाखिल किया जा सकता है। 
**** 

वीके/आरआरएस/एसकेपी–3212                                                                         (Release ID 66317)

Read also :  Income under the House Properties - Computation, Deduction for interest on housing loan : Income Tax Act

extension-of-date-of-fillling-itax-return

 Source: [PIB]

COMMENTS