केन्द्रीय कर्मियों को करना होगा अभी इन्तजार, नये वित्तीय वर्ष मे मिलेगा बाल शिक्षण भत्ते का लाभ

केन्द्रीय कर्मियों को करना होगा अभी इन्तजार, नये वित्तीय वर्ष मे मिलेगा बाल शिक्षण भत्ते का लाभ


केन्द्रीय कर्मियों को करना होगा अभी इन्तजार, नये वित्तीय वर्ष मे मिलेगा बाल शिक्षण भत्ते का लाभ
केन्द्रीय कर्मियों को बाल शिक्षण भत्ता के रूप में छठे वेतन आयोग में मिल
रहे 1,000 रूपये प्रतिमाह के स्थान पर अब 2,250 रूपये प्रतिमाह मिलेगा।

payment-of-cea-in-next-year

केन्द्र सरकार के करीब 40 लाख कर्मचारी पिछले वर्ष जुलाई 2016 में सातवें वेतन आयोग की ​अधिसूचना जारी होने के बाद से ही नये वेतनमान के अनुसार विभिन्न भत्तों से सम्बन्धित आदेश जारी होने का इन्तजार कर रहे ​थे। लम्बे इन्तजार के बाद केन्द्र सरकार ने हालांकि सातवें वेतन आयोग में बाल शिक्षण भत्ता हेतु आदेश कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग के कार्यालय ज्ञापन संख्या No.A-27012/02/2017-Estt.(AL) दिनांक 16 अगस्त 2017 के तहत् जारी कर दिया है।

Read also :  7th CPC - Revision of pension of pre-01.01.2016 Defence pensioners/ family pensioners - Notional Pay Fixation method (PCDA Circular No. 610)

जारी आदेश के अनुसार केन्द्रीय कर्मियों को बाल शिक्षण भत्ता के रूप में छठे वेतन आयोग में मिल रहे 1,000 रूपये प्रतिमाह के स्थान पर अब 2,250 रूपये प्रतिमाह मिलेगा। साथ ही जब महंगाई भत्ता 50 प्रतिशत के दर को पार कर जाएगा तब स्वत: ही इस भत्ते के दर में 25 प्रतिशत का ईजाफा होगा अर्थात् प्रतिमाह 2,813 हो जाएगा।

​कर्मचारियों में संशय उक्त आदेश में उल्लिखित उस निर्देश पर है जिसमें यह कहा गया है कि बाल शिक्षण भत्ता की प्रतिपूर्ति वित्तीय वर्ष के समाप्ति के उपरान्त किया जाए जबकि छठे वेतन आयोग में ऐसी कोई शर्त नहीं थी। केन्द्रीय कर्मी अपनी सुविधानुसार प्रत्येक तीन माह में बाल शिक्षण भत्ते की प्रतिपूर्ति करा सकते थे। सरकार के इस आदेश के बाद विशेषकर निम्न वेतन में कार्यरत् केन्द्रीय कर्मियों को आर्थिक परेशानी का सामना करना पड़ेगा क्योंकि उन्हें अपने बच्चों ​के पढ़ाई पर किए गए खर्च का भुगतान वित्तीय वर्ष की समाप्ति पर अर्थात् एक वर्ष बाद किया जाएगा।

Read also :  Income Tax - Tax Declaration To Your Employer: The Changes You Should Be Aware Of

अत: बाल शिक्षण भत्ता के नये दर पर प्रतिपूर्ति का इन्तज़ार कर रहे कर्मचा​रियों को अभी करीब छ: महीने और इन्तज़ार करना पड़ेगा।

FOLLOW US FOR LATEST UPDATES ON  FACEBOOK AND TWITTER 

COMMENTS