सैन्य कर्मियों के जीवनकाल में तलाक की अर्जी दाखिल होने पर तलाक के बाद उनके तलाकशुदा बेटियों को भी पारिवारिक पेन्शन की सुविधा मिलेगी.

सैन्य कर्मियों के जीवनकाल में तलाक की अर्जी दाखिल होने पर तलाक के बाद उनके तलाकशुदा बेटियों को भी पारिवारिक पेन्शन की सुविधा मिलेगी.

सैन्य कर्मियों के जीवनकाल में तलाक की अर्जी दाखिल होने पर तलाक के बाद उनके
तलाकशुदा बेटियों को भी पारिवारिक पेन्शन की सुविधा मिलेगी.

पत्र सूचना कार्यालय
भारत सरकार
रक्षा मंत्रालय

27-नवंबर-2017

सितंबर 2015 में जारी रक्षा मंत्रालय के एक पत्र के अनुसार, वर्तमान में केवल उन्ही बच्चों को परिवारिक-पेंशन का पात्र माना जाता है जो माता-पिता पर आश्रित हैं और सरकारी कर्मचारी या उसकी पत्नी/पति के मृत्यु के समय अन्य शर्ते को पूरा करते हैं. इसी संदर्भ में, तलाकशुदा बेटियाँ परिवारिक-पेंशन के योग्य हैं जो अन्य शर्ते पूरा करती हों यदि सक्षम न्यायालय ने उनके माता व पिता में से किसी एक के जीवन काल में तलाक का निर्णय दिया हो.

family-pension-to-divorced-daughter-reg

सरकार को शिकायतें मिली है कि तलाक प्राप्त करने की कार्यवाही एक लम्बी प्रक्रिया है जिसके पूरे होने में कई वर्ष लग जाते हैं. ऐसे कई मामले सामने आए हैं जिसमें सरकारी कर्मचारी/पेंशन भोगी की बेटी ने माता-पिता दोनों के या किसी एक के जीवित रहते ही तलाक की अर्जी सक्षम न्यायालय में दाखिल की थी लेकिन तलाक के अंतिम आदेश आने तक दोनों में से कोई भी जीवित नहीं था.

Read also :  Amendment of the Trade Unions Act, 1926 to provide provisions for recognition of Trade Unions

मामले की जाँच की गई और रक्षा मंत्रालय के पत्र दिनांक 17 नवंबर, 2017 [ क्लिक करें ] के माध्यम से यह निर्णय लिया गया है कि सैन्य कर्मियों की उन बेटियों को, वैसे मामलों में पारिवारिक पेंशन की सुविधा दी जानी चाहिए जिसमें बेटियों ने सक्षम न्यायालय में माता-पिता के या दोनों में से किसी एक के जीवनकाल में या अपने पति/पत्नी के जीवित रहते ही तलाक की अर्जी दायर कर दी हो और तलाक का अंतिम आदेश उनकी मृत्यु के पश्चात् आया हो, बशर्ते कि दावेदार पारिवारिक पेंशन पाने के अन्य सभी शर्तों को पूरा करता हो। ऐसे मामलों में पारिवारिक पेंशन, तलाक का आदेश मिलने के दिन से लागू माना जाएगा.

Read also :  EPFO : Granting 8 days Casual Leave for engagement of retired Government Officers on short term basis

Source: PIB

FOLLOW US FOR LATEST UPDATES ON  FACEBOOK AND TWITTER 

COMMENTS