पीएफ अकाउंट से पैसे निकालने की ना करें गलती, बना सकता है आपको करोड़पति

पीएफ अकाउंट से पैसे निकालने की ना करें गलती, बना सकता है आपको करोड़पति


अगर आपका पीएफ खाता 10 साल से पुराना है तो ऐसी गलती करना आपके लिए और भी ज्यादा नुकसानदेह होगा. दस साल पुराने आपके पीएफ खाते में लाखों की रकम जमा हो चुकी होती है, ऐसे में कंपाउंडिंग की ताकत से आप रिटायरमेंट तक करोड़पति बन सके हैं. फाइनेंशियल एडवाइजर संदीप शुक्ला बताते हैं पीएफ से करोड़पति बनने का आसान तरीका : 

कंपाउंडिंग (चक्रवृद्धि ब्याज) क्या है ? 

(चक्रवृद्धि ब्याज) का सीधा फंडा है जितनी कम उम्र में आप जितने अधिक समय के लिए निवेश करेंगे उतना ही ज्यादा फायदा होगा. कंपाउंडिंग की पॉवर यह है कि आपके निवेश पर मिलने वाला रिटर्न आपकी मूल राशि पर हर साल जुड़ जाता है. इसके बाद इस पूरी राशि पर ब्याज मिलता है. अगले साल यह ब्याज की राशि फिर मूल धन में जुड़ जाती है और इस पर ब्याज मिलने लगाता है. दुनिया के महान वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन कम्पाउंडिंग (चक्रवृद्धि ब्याज)को दुनिया का आठवां अजूबा कह चुके हैं. उदाहण से समझें अगर आपकी उम्र आज 35 साल है और आपका पीएफ अकाउंट 10 साल पुराना है. माना लीजिए कि दस साल में आपके पीएफ खाते में 5 लाख रुपए जमा हैं और आपकी बेसिक सैलरी 20,000 है. ऐसी स्थिति में हर साल 10 प्रतिशत सैलरी बढ़ती है साल भर बाद आपकी सैलरी से कटने वाली पीएफ की रकम भी बढ़ जाती है. इसके साथ ही ब्याज पर मिलने वाली राशि भी आपके पीएफ खाते का मूल धन बन जाती है. इस पर आपको 8.55 प्रतिशत सालाना ब्याज मिलता है. इस हिसाब से जब आप 58 साल के हो जाएंगे तो रिटायरमेंट की उम्र में आपके पीएफ अकाउंट में कुल फंड 1.24 करोड़ रुपए हो जाएगा.
Read also :  Scores & Ranking of candidates in the recruitement examinations may be published through NCS portal only - DOPT Order
कंपाउंडिंग को प्रकृति से समझें 

इसको समझने के लिए एक प्रकृति का उदाहरण लेते हैं. चीन में बांस का पेड़ होता है जिसका नाम है “चाइनीज बैम्बू” यह पेड़ और पेड़ों से अलग होता है, क्योंकि इसकी बढ़त दूसरे पेड़ों से अलग होती है. यहां और पेड़ समय के साथ-साथ बढ़ते हैं, लेकिन यह पेड़ चार साल तक जमीन के ऊपर नहीं आता. पांचवें साल के शुरुआती 5-6 हफ्तों के भीतर यह पेड़ तेजी से बढ़कर जमीन के ऊपर 10 फिट ऊंचा हो जाता है. इसी तरह कंपाउंडिंग है. धैर्य का एकदम आदर्श उदाहरण.

58 साल की उम्र से पहले एक करोड़ कैसे हो सकते हैं ? 
जबलपुर के फाइनेंशियल एडवाइजर संपीप शुक्ला बताते हैं कि पीएफ खाते में करोड़ रुपए की रकम जल्दी आप बनाना चाहते हैं तो इसके लिए आपके पास दो आसान तरीके हैं, 
पहला तरीका – आप पीएफ खाते में निवेश करने वाली रकम में बढ़ा दें. मान लीजिए अभी आपके पीएफ खाते में सैलरी की 15 प्रतिशत रकम जाती है तो आप इसको 30 प्रतिशत कर दें. इससे आपकी मूल राशि बढ़ जाएगी, इस पर मिलने वाले ब्याज भी बढ़ जाएगा. 

दूसरा तरीका – इतना करने बाद भी अगर आपके पास बचत है तो आप इसकी SIP (सिस्टामेटिक इनवेस्टमेंट प्लान) ले सकते हैं. इसमें आप पांच सौ रुपए महीने से लेकर लाखों रुपए तक पांच से दस साल तक निवेश कर सकते हैं. SIP की कोई समय सीमा नहीं होती आपको जब पैसे की जरूरत पड़े तो इससे पूरी या कुछ फीसदी राशि निकाल सकते हैं, अगर आप चाहें तो उसी बैंक में SIP करा सकते हैं जहां आपका खाता है. SIP पर मिलने वाला ब्याज बाजार पर आधारित होता है. कई बार इसमें पीएफ से भी ज्यादा ब्याज मिलता है. आपकी सैलरी से ही एसआईपी की रकम कट जायेगी. SIP से मिलने वाले एक लाख तक के ग्रास पर कोई टैक्स भी नहीं लगता.

Read also :  CGHS rates should be revised at regular intervals - Staff Side NC (JCM)

पूरी स्टोरी के लिये देखें  www.paramnews.com

https://www.facebook.com/stafftoday
https://feedburner.google.com/fb/a/mailverify?uri=blogspot/jFRICS&loc=en_US
https://twitter.com/stafftoday

COMMENTS