मार्च 2020 से पहले न्यूनतम वेतन वृद्धि की संभावना-मीडिया रिपोर्ट ।

मार्च 2020 से पहले न्यूनतम वेतन वृद्धि की संभावना-मीडिया रिपोर्ट ।

मार्च 2020 से पहले न्यूनतम वेतन वृद्धि की संभावना-मीडिया रिपोर्ट ।

केंद्र सरकार के करीब 50 लाख कर्मचारियों एवं 65 लाख पेंशनधारियों के लिए नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली NDA सरकार वर्तमान वित्तीय वर्ष के अंत से पहले खोल सकती है अपना खज़ाना। मीडिया रिपोर्टों की मानें तो कैबिनेट सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों से इतर वेतन बढ़ोत्तरी को दे सकती है मंजूरी।

7th-cpc-minimum-pay-issue

इससे पूर्व 7वें वेतन आयोग नें मूल वेतन में 2.57 से गुना करके नए वेतन के गणना की सिफारिश की थी। जबकि कर्मचारी संघों की शुरू से यह मांग रही है कि वेतन निर्धारण हेतु गुणक को 2.57 से बढ़ाकर 3.68 किया जाए। यदि मांगों के अनुरूप सरकार सहमत होती है तो न्यूनतम वेतन वर्तमान 18000 प्रतिमाह के स्थान पर 26000 प्रतिमाह हो जाएगी। इससे कर्मचारियों के मूल वेतन में 8000 रुपये की बढ़ोत्तरी होगी।

Read also :  सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों में चयन द्वारा सीधे भर्ती व्यक्ति के रूप में अभ्यर्थियों की नियुक्ति की जाने पर सीसीएस (आरपी) नियमावली, 2016 के अंतर्गत वेतन निर्धारण के लिए डीओपीटी का दिशा—निर्देश

मीडिया में इस बात की भी चर्चा होती रही है कि मोदी सरकार वेतन लेवल 1 से लेवल 5 तक के कर्मचारियों के वेतन वृद्धि के लिए सैद्धांतिक रूप से सहमत भी हो चुकी है।

COMMENTS